धर्म/अध्यात्म

यदि आध्यात्म भीतरी साधन है, तो धर्म बाहरी साधन है। आध्यात्म और धर्म एक ही साईकल के दो पहिये की तरह हैं, यदि एक भी खराब होगा तो दूसरे पर प्रभाव पड़े बिना नहीं रह सकता। धर्म और आध्यात्म दोनो ही मनुष्य जीवन के जरूरी भाग है जिनके बिना मनुष्य अपने चरम लक्ष्य को प्राप्त नही कर सकता।

सुरीले कंठ के धनी व राष्ट्रीय स्तर के विख्यात भजन सम्राट प्रकाश माली

"सुरीले कंठ के धनी व राष्ट्रीय स्तर के विख्यात भजन सम्राट प्रकाश माली" कहते हैं न प्रतिभा किसी परिचय की

MOX RATHORE MOX RATHORE

Navratri 2022 शारदीय नवरात्रि जानिए, कलश घट स्थापना शुभ मुहूर्त, पूजा विधि –स्वामी सत्यप्रकाश

शारदीय नवरात्रि हिंदू धर्म का पवित्र व पावन त्यौहार होता हैं। इन पावन दिनों में माँ दुर्गा के नौ रूपों

Swami Satyaprakash Swami Satyaprakash

अध्यात्म से बढ़ता हैं आत्मविश्वास व आत्मबल – स्वामी सत्यप्रकाश

अध्यात्म एक जीवन को संवारने व सुधरने का दिव्य मार्ग हैं। अध्यात्म से व्यक्ति का मानसिक विकास होता हैं। आज

Swami Satyaprakash Swami Satyaprakash